Blog

ये हैं डाइट के राइट प्लान जों सेहत को रखें फिट

जब भी जिक्र आता है वजन घटाने का या खुद को फिट रखने का तो सबसे पहला नाम आता है डाइटिंग का। कई ऐसे डाइट प्लान हैं, जो कम वक्त में वजन कम करने का दावा करते हैं। क्या हैं वे प्लान और इनमें कितना है दम, एक्सपर्ट्स की मदद से बता रही हैं मेधा चावला:

जनरल मोटर्स कंपनी ने अपने एम्प्लॉयीज की फिटनेस की खातिर यह इंडियन वेजिटेरियन डाइट फॉर्म्युला निकाला था। वहां सफल रहने के बाद डाइटिंग करने वालों के बीच यह काफी फेमस हो गया। ऐसा दावा किया जाता है कि इसकी मदद से 7 दिनों में करीब 5-6 किलो तक वजन कम हो जाता है। एम्प्लॉयीज की फिटनेस की खातिर यह इंडियन वेजिटेरियन डाइट फॉर्म्युला निकाला था। वहां सफल रहने के बाद डाइटिंग करने वालों के बीच यह काफी फेमस हो गया। ऐसा दावा किया जाता है कि इसकी मदद से 7 दिनों में करीब 5-6 किलो तक वजन कम हो जाता है।

हफ्ते भर का प्लान

पहला दिन: इस दिन बस फ्रूट्स खाएं, हां पेट भर खा सकते हैं। अंगूर, केला, लीची और आम छोड़कर आप कोई भी फल ले सकते हैं। भले ही दिन में 20 बार खाएं, लेकिन इस दिन आपकी डाइट का हिस्सा सिर्फ फ्रूट्स रहेंगे। इतने में ही आपका डेढ़ किलो वजन कम हो जाएगा।

दूसरा दिन: आज सब्जियां एंजॉय करें, उबली हुई या कच्ची, जैसे भी आपका मन करे। जितनी चाहे, उतनी ले सकते हैं। लेकिन ऑइल और नमक लेने से बचें। दिन की शुरुआत करें उबले आलू और एक छोटे चम्मच मक्खन के साथ। यह आपको पूरे दिन के लिए एनर्जी देगा। आज कैलरीज नहीं लेनी। इन दो दिनों का प्लान पूरा करने का मतलब है कि आप वाकई अपने मिशन को लेकर गंभीर हैं।

तीसरा दिन: आज पहले के दोनों दिनों की मिक्स्ड डाइट रहेगी। इसी के साथ खूब पानी पीना शुरू कर दें। आज आलू नहीं खाना है, क्योंकि फलों से एनर्जी मिल ही जाएगी। जैसे बॉडी से फैट घटना शुरू होगा, वैसे ही आपका मन ज्यादा खाने को करेगा। लेकिन अपने टारगेट पर टिके रहें। थोड़ा मुश्किल है, लेकिन मुमकिन है।

चौथा दिन: तीन दिन से डाइट में नमक नहीं शामिल होने से सोडियम व पोटैशियम की कमी हो सकती है। इसे दूर करने के लिए आज के दिन केले व दूध की डाइट रहेगी। आप दिन में 4 केले और 4 बार डबल टोन्ड दूध ले सकते हैं। दिन में एक बार शिमला मिर्च, लहसुन, प्याज और टमाटर का पतला सूप भी लिया जा सकता है।

पांचवा दिन: आज स्वाद पर लौट सकते हैं। टमाटर, पनीर, अंकुरित अनाज, सोयाचंक्स आदि अलग-अलग या फिर सूप के तौर पर लिए जा सकते हैं। दिन में तीन बार, ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर में यह सूप ले सकते हैं। लंच में एक कप उबले हुए ब्राउन राइस भी लिए जा सकते हैं। दिन में 6 टमाटर खाएं और पानी की मात्रा भी बढ़ा दें।

छठा दिन: पनीर, अंकुरित अनाज और दूसरी सब्जियां डाइट में रहेंगी, लेकिन टमाटर नहीं। दिन में पांच मील में इन सभी चीजों को ले सकते हैं। इन्हें सूप के तौर पर भी लिया जा सकता है। नमक कम रखें।

सातवां दिन: आखिरी और महत्वपूर्ण दिन में आप फ्रेश फ्रूट जूस, एक कप ब्राउन राइस या फिर आधी रोटी और दूसरी सब्जियां खाएं। इस डाइट में पानी भरपूर पिएं। रोजाना कम-से-कम 8-10 गिलास पानी पीना चाहिए। इससे बॉडी के डिटॉक्सिफिकेशन में मदद मिलेगी और मन भी रिलैक्स रहता है।

कमी: इस डाइट प्लान में एकदम खाना कम हो जाने से मांसपेशियों में कमजोरी, डिहाइड्रेशन, सिर में दर्द, बहुत ज्यादा भूख लगना जैसी समस्याएं हो सकती हैं। हालांकि जैसे बॉडी खुद को इस डाइट प्लान के हिसाब से ढालेगी, उसी के साथ ये दूर भी होती जाएंगी।

Courtesy:navbharattimes

Related Posts

You may like these post too

विटामिन डी की कमी से क्या होता है

DATE

खजूर खाकर ही क्यों खोला जाता है रोजा, जानें इसके फायदे

musk- melon recipe

गर्मी से राहत पाने के लिए झटपट तैयार करें खरबूजा मिल्क शेक

child with rain

मानसून में रखेंगे इन बातों का ध्यान तो कोई बीमारी आपके बच्चों को छू भी नहीं पाएगी

Leave a Reply

it's easy to post a comment